जयकारों से गूंजा सांवलिया सेठ का दरबार

मण्डफिया, १६ अग. (प्रासं)। प्रमुख तीर्थ स्थल भगवान श्री सांवलियाजी सेठ के दरबार में जन्माष्टमी पर्व हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। इस मौके पर दूर दराज से आए हजारों लोगों ने भगवान के दर्शन किये। रात्रि १२ बजे भगवान श्रीकृष्ण के जन्मोत्सव के दौरान ''हाथी घोड़ा पालकी, जय कन्हैया लाल की'' गूंज से सर्वत्र वातावरण गूंज उठा।
इस अवसर पर सांवलियाजी भक्त ओमप्रकाश काबरा की ओर से एक क्विंटल ५० किलो की शुद्ध घी की पंजेरी एवं ५१ किलो मावा पिस्ता युक्त केक का भोग भगवान श्री सांवलिया सेठ को धराया गया।
इधर श्री सांवलियाजी मन्दिर की ओर से सवा क्विंटल सौंठ, धनिया मेवा युक्त पंजेरी का भोग धराया गया। रात्रि एक बजे सभी भक्तों को प्रसाद वितरण किया गया। इससे पूर्व रात्रि ८ बजे मन्दिर प्रांगण में विशाल भजन संध्या का आयोजन हुआ, जिसमें टी.वी. कलाकार गणेश श्रीवास्तव, विमल जैन एवं विनोद राठौर एण्ड पार्टी द्वारा कृष्ण पर आधारित कई भजनों की प्रस्तुतियां दी।
मंदिर की ओर से प्रशासनिक अधिकारी भगवान लाल चतुर्वेदी, सहायक लेखाधिकारी किशनलाल शर्मा, कैशियर नन्दकिशोर टेलर व्यवस्था में उपस्थित थे। थाना अधिकारी मिट्ठुलाल मेघवाल, दुर्गाप्रसाद मय जाप्ता तैनात थे।
इधर राष्ट्रीय महिला आयोग अध्यक्षा एवं चित्तौडग़ढ़ सांसद गिरिजा व्यास ने शनिवार को सांवलिया सेठ के दरबार में आकर शीश नवाया। वहीं चित्तौडग़ढ़ जिला कलेक्टर डॉ. समित शर्मा ने भी जन्माष्टमी पर प्रभु दर्शन किए।

No comments:

ShareThis

copyright©amritwani.com

: जय श्री सांवलिया जी : : सभी कानूनी विवादों के लिये क्षेत्राधिकार चित्तोडगढ होगा। प्रकाशित सभी सामग्री के विषय में किसी भी कार्यवाही हेतु संचालक/संचालकों का सीधा उत्तरदायित्त्व नही है अपितु लेखक उत्तरदायी है। आलेख की विषयवस्तु से संचालक की सहमति/सम्मति अनिवार्य नहीं है। सम्प्रदाय विरोधी , अनैतिक,अश्लील, असामाजिक,राष्ट्रविरोधी , मिथ्या , तथा असंवैधानिक कोई भी सामग्री यदि प्रकाशित हो जाती है तो वह तुंरत प्रभाव से हटा दी जाएगी व लेखक सदस्यता भी समाप्त करदी जाएगी। यदि कोई भी पाठक कोई भी आपत्तिजनक सामग्री पाते हैं तो तत्काल संचालक मंडल को सूचित करें | : जय श्री सांवलिया जी :