आयोजन के बिचौलियों को हाथ लगी निराशा

चित्तौडग़ढ़, २५ अग. (प्रासं)। जिले के सांवलियाजी कस्बें में आगामी ३० अगस्त से प्रारम्भ होने वाले जल झुलनी एकादशी मेले के दौरान आयोजित होने वाले विभिन्न कार्यक्रमों के लिए अपनी जेबे गर्म करने वाले बिचोलियों को इस वर्ष निराशा हाथ लगी।
सांवलियाजी में आगामी ३० अगस्त से एक सितम्बर तक जल झुलनी एकादशी का विशाल मेला आयोजित किया जा रहा है। मेले के दौरान अखिल भारतीय कवि सम्मेलन, आर्केस्ट्रा कार्यक्रम, भजन संध्या समेत अन्य कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। प्रति वर्ष आयोजित होने वाले इस मेले के प्रारम्भ होने से कुछ समय पूर्व ही कई ऐसे बिचोलिए इन आयोजनों को आयोजित करवाने के लिए सक्रिय हो जाते थे।
इस वर्ष आयोजित किए जाने वाले कवि सम्मेलन एवं अन्य आयोजनों के लिए बिना किसी बिचोलियों का सहारा लिए श्री सांवलिया मन्दिर मण्डल के मुख्य निष्पादन अधिकारी एवं अपर कलेक्टर सुरेन्द्र माहेश्वरी ने अनूठा तरीका अपनाया। उन्होने इसके लिए विभिन्न वेब साईट का सहारा ले कर विभिन्न कवियों, रंगारंग कार्यक्रम आयोजित करने वाले कलाकारों आदि के बारे में जानकारी प्राप्त कर सीधा उनसे सम्पर्क कर पारिश्रमिक के बारे में जानकारी प्राप्त की। इसी आधार पर कई कवियों आदि को मेले के लिए आमत्रित किया गया। इस अनूठी पहल की वजह से मन्दिर मण्डल का काफी पैसा बच गया।

No comments:

ShareThis

copyright©amritwani.com

: जय श्री सांवलिया जी : : सभी कानूनी विवादों के लिये क्षेत्राधिकार चित्तोडगढ होगा। प्रकाशित सभी सामग्री के विषय में किसी भी कार्यवाही हेतु संचालक/संचालकों का सीधा उत्तरदायित्त्व नही है अपितु लेखक उत्तरदायी है। आलेख की विषयवस्तु से संचालक की सहमति/सम्मति अनिवार्य नहीं है। सम्प्रदाय विरोधी , अनैतिक,अश्लील, असामाजिक,राष्ट्रविरोधी , मिथ्या , तथा असंवैधानिक कोई भी सामग्री यदि प्रकाशित हो जाती है तो वह तुंरत प्रभाव से हटा दी जाएगी व लेखक सदस्यता भी समाप्त करदी जाएगी। यदि कोई भी पाठक कोई भी आपत्तिजनक सामग्री पाते हैं तो तत्काल संचालक मंडल को सूचित करें | : जय श्री सांवलिया जी :