गोकुलमय सांवलिया धाम

मण्डफिया। जन्माष्टमी पर्व प्रख्यात कृष्ण धाम सांवलियाजी मंदिर में श्रद्धालुओं की भीड उमड पडी। जयकारे लगाते आ रहे श्रद्धालुओं के जत्थों से पूरा माहौल गोकुलमय बन गया। सुबह सवा दस बजे राजभोग आरती तक तो यह कतारें दो-तीन किलोमीटर दूर तक चली गई। दिन उगने के साथ श्रद्धालुओं की भीड भी बढती गई।

मंदिर के गर्भ गृह तथा मुख्य मंदिर में गुलाब के फूलों की सजावट की गई। कस्बे में शुक्रवार को बजरंग व्यायामशाला उज्जैन के पहलवानों ने अखाडा प्रदर्शन कर मटकियां फोडी। कस्बे में दोपहर बारह बजे से जुलूस निकाला, जो विभिन्न मार्गो से होते हुए सांवलियाजी मंदिर पर समाप्त हुआ। मार्ग में अखाडा के पहलवान ढोल नंगाडों की थाप पर अखाडा प्रदर्शन करते हुए चल रहे हैं।

चित्तौडगढ। क्षेत्र में जन्माष्टमी पर्व परम्परा एवं हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। मंदिरों में विशेष सजावट की तथा दर्शनार्थ श्रद्धालुओं की भीड उमड पडी। मंदिरों में विद्युत चलित झांकियां सजाई गई तथा भजन संध्याओं का आयोजन किया गया। रात्रि में विशेष आरती के बाद पंजेरी का प्रसाद वितरित किया गया।

जन्माष्टमी पर शहर में माहौल कृष्णमय बना रहा। शहर में पावटा चौक स्थित सब्जी मण्डी में विद्युत चलित झांकियां सजाई गई। झांकियां देखने के लिए शहर सहित आसपास के लोगों की भीड उमड पडी। विद्युत सजावट से सब्जी मण्डी का क्षेत्र रोशनी से नहा उठा। लोगों की भीड को देखते हुए यहां विशेष सुरक्षा व्यवस्था के इंतजाम किए गए। दुपहिया वाहनों को गोल प्याऊ के यहीं रोक लिया गया। सब्जी मण्डी क्षेत्र में मेले जैसा माहौल बन गया था।

सब्जी मण्डी में भगवान कृष्ण जन्म, बाल लीला, बकासुर वध, रासलीला, कृष्ण-सुदामा आदि की विद्युत चलित झांकियां सभी को आकर्षित कर रही थी। वहीं शहर के विभिन्न मंदिरों तथा मोहल्लों में भी झांकियां सजाई गई। अर्द्ध रात्रि बाद भगवान कृष्ण की विशेष आरती कर पंजेरी का प्रसाद चढाया गया। निकटवर्ती ओछडी गांव में चारभुजा मंदिर पर विद्युत सजावट की गई। गुरूवार रात रात्रि में आठ बजे से भजन संध्या का आयोजन किया।

आदर्श विद्यालय निकेतन माध्यमिक विद्यालय में जन्माष्टमी पर्व पर कृष्ण बनों प्रतियोगिता, कृष्ण भजन संध्या तथा भगवान कृष्ण की झांकियां सजाई गई। भीलवाडा मार्ग स्थित गोपाल गोशाला में जन्माष्टमी पर्व ब्रज गोपिका सेवा मिशन की ओर से धूमधाम से मनाया गया। प्रात: सात से ग्यारह बजे तक विशेष संकीर्तन, आध्यात्मिक प्रश्नोत्तर भोग आरती का आयोजन हुआ। गोशाला में ही 11 बजे से भजन संध्या का अयोजन हुआ, जिसमें मधु त्रिलोक छाबडा, तेजस्विता छाबडा, जगदीश वैष्णव तथा जगदीश बैरागी आदि ने भजनों की प्रस्तुति दी। भगवान कृष्ण की मनमोहक झांकी एवं झूला भी सजाया गया।

किया रक्तदान

श्री कृष्ण जन्माष्टमी पर्व पर अहीर समाज ने शुक्रवार को सांवलियाजी चिकित्सालय में 54 युवाओं ने रक्तदान किया। प्रादेशिक परिवहन अघिकारी सत्यवीरसिंह यादव ने रक्तदान कर शिविर का शुभारम्भ किया। इस अवसर पर पूर्व नरगपालिकाध्यक्ष नीरूदेवी अहीर, छात्रावास कमेटी के किशनलाल अहीर, माधव अडाणा, नारायणलाल, देवीलाल, घनश्याम अहीर, उदयलाल फाचर, घटा क्षेत्र के उंकारलाल, नारायणलाल, अम्बालाल, सहित कई लोगों ने सांवलियाजी चिकित्सालय में भी भगवान कृष्ण की पूजा की।

No comments:

ShareThis

copyright©amritwani.com

: जय श्री सांवलिया जी : : सभी कानूनी विवादों के लिये क्षेत्राधिकार चित्तोडगढ होगा। प्रकाशित सभी सामग्री के विषय में किसी भी कार्यवाही हेतु संचालक/संचालकों का सीधा उत्तरदायित्त्व नही है अपितु लेखक उत्तरदायी है। आलेख की विषयवस्तु से संचालक की सहमति/सम्मति अनिवार्य नहीं है। सम्प्रदाय विरोधी , अनैतिक,अश्लील, असामाजिक,राष्ट्रविरोधी , मिथ्या , तथा असंवैधानिक कोई भी सामग्री यदि प्रकाशित हो जाती है तो वह तुंरत प्रभाव से हटा दी जाएगी व लेखक सदस्यता भी समाप्त करदी जाएगी। यदि कोई भी पाठक कोई भी आपत्तिजनक सामग्री पाते हैं तो तत्काल संचालक मंडल को सूचित करें | : जय श्री सांवलिया जी :